Cyber Crime Kya Hai? Types of Cyber Crime

Cyber Crime Kya Hai; Types of Cyber Crime ;cyber crime complaint;cyber crime complaint number ;cyber crime portal ;cyber crime complaint online ;cyber crime in india ;cyber crime police ;cyber crime complaint portal ;cyber crime complaint india

Cyber Crime Kya Hai? Types of Cyber Crime : Hello दोस्तों स्वागत है आपका technicalbandu.com  के इस नए पोस्ट मैं जिसमें आप जानेंगे की Cyber Crime Kya Hai? Types of Cyber Crime की हर चीज़ के बारे मे जानेगे |

साइबर अपराध (Cyber Crime) का मतलब ऐसी किसी भी आपराधिक गतिविधि है जिसमें कंप्यूटर, नेटवर्क डिवाइस या नेटवर्क का उपयोग किया जाता है। साइबर अपराध हमेशा व्यक्तियों या हैकर्स द्वारा नहीं किया जाता है बल्कि संगठनों द्वारा भी किया जाता है। साइबर अपराध में कई अलग-अलग प्रकार की आपराधिक गतिविधियां हो सकती है। रैंसमवेयर अटैक, ईमेल और इंटरनेट फ्रॉड, आइडेंटिटी थेफ़्ट या फाइनेंशियल अकाउंट, क्रेडिट कार्ड या अन्य भुगतान कार्ड की जानकारी चुराना या किसी व्यक्ति की पर्सनल जानकारी या किसी कॉर्पोरेट डाटा को चुराना और उसे बेच देना, साइबर अपराध किसी भी प्रकार का हो सकता है। Cyber Crime Kya Hai?

साइबर क्राइम साइबर अपराधियों (Cyber Criminals) द्वारा ज्यादातर वित्तीय फायदे के लिए किए जाते हैं तो कुछ साइबर अपराध महत्वपूर्ण जानकारी रखने वाले कंप्यूटर या अन्य उपकरणों को नुकसान पहुंचाने या डिसएबल करने के लिए किए जाते हैं। कुछ लोग वायरस, मैलवेयर या अन्य एन्क्रिप्टेड कोड आदि फैलाने के लिए कंप्यूटर या नेटवर्क का उपयोग करते हैं यानी, कंप्यूटर को कंप्यूटर वायरस से संक्रमित करने के लिए टारगेट करते हैं, जो कभी कभी सर्वर, डेटा वेयरहाउस और पूरे नेटवर्क में फैल जाता है।



साइबर क्राइम क्या है? 

Cybercrime एक ऐसा अपराध, जिसमे कंप्यूटर का उपयोग ऑनलाइन अपराध (hacking, phishing, spamming) करने के लिए किया जाता है। सीधे शब्दों में, किसी के कंप्यूटर से उसकी नीजी जानकारी को निकाल लेना या चोरी कर लेना और उसका गलत इस्तमाल करने को ही साइबर क्राइम कहते है और अगर ये cybercrime बड़ा रूप ले ले तो उसे साइबर आतंकवाद (cyber terrorism) कहा जाता है। इसमें किसी की निजी जानकारी चुराने के अलावा दस्तावेज या डाटा चोरी (theft), धोखाधड़ी (fraud), बाल अश्लीलता (child pornography) और नफरत (hate crime) इत्यादि अपराध आते है।

किसी भी कंप्यूटर का किसी अपराधिक स्थान पर मिलना या कंप्यूटर से कोई भी अपराध करना कंप्यूटर अपराध कहलाता है। लेकिन कंप्यूटर अपराध मे नेटवर्क शामिल नही होता है। इस cyber crime को जो लोग अंजाम देते है उन्हें साइबर अपराधी (cyber criminals) कहा जाता है। ये Cybercriminals computer और internet technology का इस्तेमाल करके लोगो के system को access करके उनके personal information, bank, details, business trade को चोरी करते है। जो criminals इन illegal activities को करते है उन्हें hackers या crackers कहा जाता है। चूँकि हैकर साइबर क्राइम करने के लिए computer का इस्तेमाल करते है, इसीलिए इसे computer crime भी कह सकते है। Cyber Crime Kya Hai?

साइबर अपराध के प्रकार

साइबर अपराध के प्रकार निम्नानुसार हो सकते है –

Identity Theft
यह अपराध आज काफी ज्यादा दिखने को मिलता है। आज कल न्यूज़ पेपरों में आप पढ़ते होंगे। आज कल लोग बैंक जाने की अपेक्षा ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करते है जिसमे आप कोई ट्रांजेक्शन एप या बैंको की ऑनलाइन सर्विस का उपयोग करते हैं ।
ऐसे क्राइम मे, साइबर अपराधी कोई ना कोई गैर कानूनी तरीके से ऑनलाइन आपका पर्सनल डाटा जैसे आपके लेनदेन प्लेटफार्म का Login id या Password, Personal Information, Internet Banking Details, Credit Card Details, Debit Card Details चुरा लेता है, और आपकी निजी जानकारी का इस्तेमाल कर ऑनलाइन प्लेटफार्म पर वस्तु खरीद लेते हैं। इस अवस्था में सामने वाले व्यक्ति के अकाउंट से पैसा कट जाता है और एक भारी हानि झेलना पड़ता है।

Child Ponografy
ऐसे अपराध में अपराधी खुद Identity छुपाकर फर्जी आईडी बनाकर Chat Room का उपयोग करते है और सामने वाले को धोखे में रखकर बातचीत करते हैं. इसमें छोटे बच्चो को या नाबालिको को इतनी समझदारी नहीं होती ऐसी कंडीशन में अपराधी बच्चो को डराते धमकाते है लेकिन बच्चे माता पिता के डर से ये बात घर वालो या माता पिता को नही बताते हैं। और एब्यूजर्स के शिकार हो जाते है। Cyber Crime Kya Hai?

Theft
ऐसे अपराध तब बनता है जब कोई एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति का कॉपीराइट सामग्री बिना उसकी इजाजत के गैर कानूनी तरीके से फ्री में इस्तेमाल करता है।

Cyber Stalking
यह एक ऐसा साइबर अपराध होता है जिसमे ऑनलाइन Social Media प्लेटफार्म के द्वारा मैसेज या ईमेल कर Blackmail करता है। ऐसे अपराध में ज्यादातर बच्चो को परेशान कर ब्लैकमेल किया जाता है।

Malicios Software
ऐसा कोई App या Software जिसका बिना जानकारी के अपने कंप्यूटर या मोबाइल फोन में डाउनलोड कर इंस्टॉल कर लेते है तो साइबर अपराधी हमारे सिस्टम की सारी इनफॉर्मेशन बड़ी आसानी से चुरा सकते है या बिगाड़ (Damage) सकते है।

Hacking
ऐसे अपराध में Hackers किसी दूसरे के निजी कंप्यूटर या मोबाइल मे निजी जानकारी को गैर कानूनी तरीके से बिना इजाजत के देखते और चुराते रहते हैं। ऐसी कंडीशन में सामने वाले व्यक्ति को पता भी नही चलता कोई उसकी information निकलता (acces) रहता है।



साइबर क्राइम को खत्म करने के लिए भारत सरकार द्वारा किए गए प्रयास –

  • भारत में साइबर अपराध को रोकना और उससे सुरक्षित होना बहुत कठिन कार्य है क्योंकि भारत में आधारभूत संरचना का अभाव है परन्तु फिर भी भारत सरकार साइबर अपराध को दूर करने के लिए ठोस प्रयास कर रही है।
  • सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम 2000 (IT act 2000) की धाराएं 43, 43ए, 66, 67, 67ए, 70, 72, 72ए  और 74 हैकिंग और साइबर अपराधों से संबंधित है ये सभी धाराएं लागू की गई है।
  • साइबर अपराध से सुरक्षा के लिए सरकार द्वारा राष्ट्रीय साइबर नीति 2013 जारी की गई जिसके तहत सरकार ने अति संवेदनशील सूचनाओं के संरक्षण एवं सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय अतिसंवेदनशील सूचना अवसंरचना संरक्षण केंद्र (National Critical Information Infrastructure protection centre – NCIIPC) का गठन किया गया। इस नीति के तहत अपराधी को 2 वर्ष से लेकर उम्र कैद व दंड और जुर्माने का प्रावधान किया गया है।
  • भारत सरकार द्वारा कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (CERT-in) की स्थापना की गई। यह कंप्यूटर सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय स्तर की मॉडल एजेंसी है।
  • भारत सरकार द्वारा देश में साइबर अपराधों से समन्वित और प्रभावी ढंग से निपटने के लिए साइबर स्वच्छता केंद्र की स्थापना की गई है। इसके अलावा भारत साइबर अपराध को खत्म करने के लिए सूचना साझा करने और साइबर सुरक्षा के संदर्भ में सर्वोत्तम कार्य प्रणाली अपनाने के लिए अमेरिका, चीन और ब्रिटेन जैसे देशों के साथ समन्वय स्थापित कर रहा है।

भारत में Cyber Crime की Report कहाँ करे?

भारत में cyber crime और online fraud के cases प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे है, और knowledge न होने के कारण जो लोग इसके शिकार होते है वो कुछ कर नहीं पाते है। हम उन्हें बताना चाहेंगे कि अगर कभी आपके साथ ऐसा होता है तो cybercrime victim साइबर क्राइम के against complaint report दर्ज कर सकते है। Cyber crime complaint करने के लिए आप Indian government की वेबसाइट Cyber Crime Portal पर जा कर ऑनलाइन कंप्लेंट कर सकते है। इसके अलावा भारत के लगभग सभी बड़े cities में cyber cell मोजूद होते है। आप वहां जा कर complaint कर सकते है। ये cyber department दोनों तरीको से online और offline मदद करते है। अगर कोई आपकी fake profile बना कर उसके जरिये illegal activities को अंजाम देता है तो आप इसकी cyber crime investigation cell को report कर सकते है। और आप चाहे तो National cyber crime reporting portal के helpline number 155260 पर call भी कर सकते है। ये थी cyber crime क्या है की जानकारी। Cyber Crime Kya Hai?



साइबर अपराध से सावधानियां 

आज साइबर अपराधी डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर की कमियों का फायदा उठाकर लगातार अपराध कर रहे हैं और कोई भी सुरक्षित नहीं है। ज्यादातर मामलों में साइबर वॉयलेशन का पता लगाने में किसी कंपनी/ऑर्गेनाइजेशन का औसत समय 200 दिनों से भी अधिक है।अधिकांश इंटरनेट उपयोगकर्ता इंटरनेट उपयोग करते समय इस बात ध्यान नहीं देते हैं कि वे भी साइबर अपराध का शिकार हो सकते हैं और और बहुत कम लोग ही अपने पासवर्ड या इन्फॉर्मेशन जैसी अति सुरक्षित जानकारी समय समय पर अपडेट करते रहते हैं। यह कई लोगों को साइबर अपराध के लिए अतिसंवेदनशील बनाता है और इसकी जानकारी होना महत्वपूर्ण है। Cyber Crime Kya Hai?

एक व्यक्ति के रूप में या एक व्यवसाय के रूप में अपनी सुरक्षा के लिए आप स्वयं को और दूसरों को उन सावधानियों के बारे में शिक्षित कर सकते हैं। इसमें कुछ सामान्य सावधानियां इस प्रकार हैं –

  • वेबसाइट ब्राउज़ करते समय अनजान लिंक ना खोलें।
  • पासवर्ड/क्रेडेंशियल दर्ज करने से पहले सुनिश्चित करें कि वेबसाइट सुरक्षित हैं।
  • संदिग्ध ईमेल को फ़्लैग करें और रिपोर्ट करें।
  • आकर्षित विज्ञापनों पर कभी भी क्लिक न करें।
  • एंटीवायरस/एप्लिकेशन सिस्टम को अपडेट रखें।
  • मजबूत पासवर्ड का उपयोग करें।
  • वेब ब्राउज़र में कार्य हो जाने के बाद हिस्ट्री और कूकीज डिलीट कर दें।

आने वाले वर्षों में साइबर अपराध और तेजी से बढ़ेगा जिससे डेटा की सुरक्षा करना और चुनौतीपूर्ण होगा।

ऑनलाइन शिकायत करनें की प्रक्रिया 

  • साइबर अपराध से सम्बंधित शिकायत करनें के लिए राष्ट्रीय साइबर अपराध रिपोर्टिंग पोर्टल cybercrime.gov.in पर जाएँ|




आज आपने क्या सीखा

मुझे आशा है की मैंने आप लोगों को Cyber Crime Kya Hai? के बारे में पूरी जानकारी दी और में आशा करता हूँ आप लोगों को Types of Cyber Crime के बारे में समझ आ गया होगा।

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तब इसके लिए आप नीच comments लिख सकते हैं. आपके इन्ही विचारों से हमें कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिलेगा।

Be the first to comment on "Cyber Crime Kya Hai? Types of Cyber Crime"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*