ई-कॉमर्स क्या है – What is E-commerce in Hindi?

e-commerce ; e commerce kya hai; e commerce se paise kaise kamaye; ई-कॉमर्स के प्रकार ; ई-कॉमर्स के अनुप्रयोग क्या है; ई-कॉमर्स क्या है इसके लाभ बताइए; ई-कॉमर्स का इतिहास; ई-कॉमर्स क्या है pdf; ई-कॉमर्स के नुकसान ; ई-कॉमर्स पर निबंध ई-कॉमर्स शामिल करना है; ई-कॉमर्स के अनुप्रयोग क्या है; ई-कॉमर्स के प्रकार; ई-कॉमर्स का इतिहास; ई-बिजनेस क्या है; ई-कॉमर्स के क्षेत्र और सीमाओं को समझाइए ; ई-कॉमर्स के नुकसान; भारत में ई-कॉमर्स का विकास ; e-commerce examples; e-commerce wikipedia; e-commerce pdf; e commerce benefits; e commerce industry e commerce introduction; e commerce full form; history of e commerce

E-Commerce Kya Hai ? क्या आपको पता है की कॉमर्स क्या हैऔर यह काम कैसे करती है अगर कभी आपने Amazon या Flipkart से कुछ ख़रीदा है तो आपको इसके बारे में थोड़ी Knowledge तो जरूर होगी लेकिन कई बार लोगो को सिर्फ खरीदने से मतलब होता है इसके बारे में जानने से कोई लेना देना नहीं होता है और कुछ लोगो को इसके बारे में जानने  में Interest होता है और वह जानना भी चाहते है तो आपको परशान होने की जरूरत नहीं है बस आपको यह पोस्ट को Last तक Read करना होगा क्योकि अगर आप आधा ही पढ़ कर छोड़ देंगे तो आपको आधी जानकारी ही मिल पायेगी. आज आप इस पोस्ट में जानेगे की E-Commerce Kya Hai ? इसकी शुरुआत किसने की और इसके फायदे और नुक्सान क्या है? आपको इस पोस्ट में E-Commerce क्या है? से Related सभी सवालों के जवाब मिल जाएंगे.

ई-कॉमर्स क्या है – What is E-commerce in Hindi?

सबसे पहले E-Commerce का मतलब  होता है Electronic Commerce यानी अपने Business को Electronic या Online तरीके से करना, अपने Offline Business को Online में Convert करना ही E-Commerce कहलाता है आपने कभी भी Online कपडे और शू जैसे बहुत सी चीज़े खरीदी होंगी अगर ख़रीदी है तो आप भी ई-कॉमर्स का एक Part बने हो जैसे Amazon यह Flipkart जैसी बहुत सी Website Online तरीके से अपने Business को Run करती है यह Business किसी भी चीज़ से Related हो सकता है जैसे Amazon जैसी International Online Transaction Website सभी चीज़ो का बिज़नेस करती है वह कपड़ो के साथ-साथ, Cell Phone, Begs और भी बहुत सी चीज़ो को Online Sale करती है

आसान शब्दो में कहा जाये तो

  1. किसी भी Business को Online या Internet पर करना |
  2. यह एक ऐसा Process है जिसमे की Buyer और Seller एक Electronic Process से लेन-देन करते है या Product खरीदते और बेचते है उसी माध्यम को हम ई-कॉमर्स कहते है

कॉमर्स की शुरआत

सबसे पहले ई-कॉमर्स की Startup 1979 में Michael Aldrich ने की थी तब से अब तक Online Transaction का Process  इतना बढ़ गया है की आज हर कोई Online Shopping कर रहा है आज जब किसी को कुछ खरीदना होता है तो वह घर बैढे आराम से कुछ भी खरीद सकता है और जब उसे Best Quality में वह Brand मिलेगा तो वह क्योँ बाहर से कुछ लेना पसंद करेगा. आज हम Online सब कुछ खरीद सकते है जैसे कपडे, Stationary, Shoe, Beg, Computer, Food आदि जैसे सामान खरीद सकते है |

सबसे पहले ई-कॉमर्स की शुरुआत eBay और Amazon कंपनी द्वारा की गई जो की अब International Online Transaction Company कहलाती है और जिनसे सबसे ज्यादा Transaction की जाती है.



Online Transaction में आपको Payment का कोई issue नहीं होगा बल्कि Payment आपके Credit Card, Paytm के behalf  पर हो जाएगी आपको बस अपना सामान Received  करना होगा.

Email Marketing क्या है?

Year – 1980 

उस समय अब बात यह उठती थी की लोगो को ई-कॉमर्स के बारे में कैसे बताएँगे और लोग इसको इस्तेमाल कैसे करेंगे सबसे पहले Online Transaction करने के लिए एक Computer या smart phone होना बहुत जरूरी था और उस टाइम हर किसी के पास कंप्यूटर/smart phone  नहीं था तब Bill Gates  जिन्होंने Microsoft कंपनी का निर्माण किया था और Steven Paul Jobs जो की Apple inc के founder  है उन्होंने सभी लोगो के पास कंप्यूटर को पहुंचने का प्रयास किया और उनका यह प्रयास successful भी रहा लेकिन बाद में सभी के पास मोबाइल फ़ोन आने से Online Transaction का काम मोबाइल में भी होने लगा.



Amazon जो की ई-कॉमर्स का सबसे पहला Platform है और जिसके FounderCEO, and Chairman Jeff Bezos है. Amazon की Transaction की Speed इतनी Fast थी की Amazon ने पहले साल में ही करीबन 10 लाख Books की sale की और फिर यही से Amazon के बढ़ने का stage शुरू हो गया या यह कह सकते है की यहाँ से अमेज़न के Founder Jeff Bezos को एक Platform मिल गया.  उस समय Payment करने की एक Problem थी तो पेमेंट के लिए Transactions Company Cheques का इस्तेमाल करती थी जो की बहुत ही लम्बा Process था तब 1995 में Paypal आया और जिसने यह सारी ट्रांसक्शन को easy कर दिया तब तक यह ई-कॉमर्स India में नहीं आया था बस यह Out of India की Country में ही था.

Types of E-Commerce in hindi (ई-कॉमर्स के प्रकार)

e-commerce के 6 निम्नलिखित प्रकार है:-

  • B2B (business to business)
  • B2C (business to consumer)
  • C2B (consumer to business)
  • C2C (consumer to consumer)
  • B2A (business to administration)
  • C2A (consumer to administration)

India में कॉमर्स

India में E-Commerce 2002 में IRCTC (Indian Railway Catering and Tourism Corporation ) से शुरुआत हुई जिसमे की हम घर बैठे ही Ticket Book कर सकते थे जहाँ पर लोग घंटो धूप में लाइन में खड़े होकर Ticket लेते थे वह E-Commerce  के आने ने यह काम भी बहुत आसान हो गया और यही से Online Transaction का सफर शुरू हो गया और फिर धीरे-धीरे 2003 में Airplane  की Ticket भी Online होने लगी फिर सभी Airlines कंपनियों ने अपनी सभी Transaction Online कर दी तो लोगो को इस सब से बहुत फायदा हुआ और लोगो को सबसे बड़ा फायदा यह हुआ की जो बीच में Agent Customer से Extra Charge लेते थे वह सब बंद हो गए इससे Shopper और Customer के बीच सीधा माध्यम बन गया. yatra .com Bookmyshow online Traveling जैसी Website है. इसमें हम Online Ticket Easily बुक कर सकते है.

Digital Marketing क्या है?

Flipkart जिसकी शुरुआत Kalyan Krishnamurthy ने की और जिसकी शुरुआत इंडिया में हुई और जो 2007 में आया Flipkart के आने से ही Online Transaction के बारे में लोगो को पता चला और फिर धीरे-धीरे Amazon, Snapdeal जैसी वेबसाइट भी इंडिया में आई Amazon के India में आने से इसका Business और ज्यादा बढ़ गया और फिर यह एक International Online Transaction का source बन गया और अब ई-कॉमर्स India में बहुत ही पॉपुलर है.

E-Commerce के फायदे- Advantages of E-Commerce in Hindi

#1. ग्राहक अपनी इच्छानुसार खरीदारी

ग्राहक अपनी इच्छानुसार खरीदारी करने में कम समय बिता सकते हैं। वे एक बार में कई वस्तुओं को आसानी से ब्राउज़ कर सकते हैं और अपनी पसंद की चीजें खरीद सकते हैं। ऑनलाइन होने पर, ग्राहक उन वस्तुओं को ढूंढ सकते हैं जो उनसे दूर भौतिक दुकानों में उपलब्ध हैं या उनके इलाके में नहीं मिलती हैं।

#2. लागत में कमी

व्यापार के लिए ई-कॉमर्स का सबसे बड़ा लाभ जो विक्रेताओं को ऑनलाइन बिक्री में रुचि रखता है, वह है लागत में कमी। कई विक्रेताओं को अपना भौतिक भंडार बनाए रखने के लिए बहुत अधिक भुगतान करना पड़ता है।

#3.  विज्ञापन अधिक पैसा खर्च नहीं करना पड़ता

विक्रेताओं को अपनी वस्तुओं को बढ़ावा देने के लिए बहुत अधिक पैसा खर्च नहीं करना पड़ता है। ई-कॉमर्स की दुनिया में ऑनलाइन मार्केटिंग करने के कई किफायती तरीके हैं।

#4. ग्राहकों के लिए लचीलापन

व्यापार के लिए ई-कॉमर्स का एक महत्वपूर्ण लाभ यह है कि विक्रेता ग्राहकों को लचीलापन प्रदान कर सकते हैं। एक हाइलाइट यह है कि उत्पाद और सेवाएं 24×7 तैयार हैं। नतीजा यह होता है कि विक्रेता अपनी वस्तु को कहीं भी, कभी भी पेश कर सकता है।

#5. कोई पहुंच सीमा नहीं

एक भौतिक स्टोर वाला विक्रेता केवल एक निश्चित संख्या में खरीदारों तक पहुंचने में सक्षम हो सकता है। वे ग्राहकों के घरों तक पहुंचा सकते हैं लेकिन दूरी की सीमाएं हो सकती हैं। कई ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस की अपनी लॉजिस्टिक्स और डिलीवरी सिस्टम है।

#6. कई भुगतान मोड

खरीदारों को वैयक्तिकरण पसंद है – वही उनके आदेशों के भुगतान के लिए जाता है। ईकॉमर्स मार्केटप्लेस कई भुगतान मोड की अनुमति देता है जिसमें UPI, कैश ऑन डिलीवरी, कार्ड ऑन डिलीवरी, नेट बैंकिंग, क्रेडिट या डेबिट कार्ड पर ईएमआई और पे-लेटर क्रेडिट सुविधा शामिल हैं।

#7. आसान निर्यात सक्षम करता है

ई-कॉमर्स निर्यात विक्रेताओं को वैश्विक बाजारों में अंतरराष्ट्रीय ग्राहकों को सीधे बेचने में सहायता करता है, जिससे उन्हें राष्ट्रीय सीमाओं से परे और विदेशों में विस्तार करने की अनुमति मिलती है। ई-कॉमर्स के साथ, विक्रेताओं को ग्राहकों तक पहुंचने के लिए भौतिक सेटअप में निवेश करने की आवश्यकता नहीं होती है।

E-Commerce Platform in World

  • Shopify
  • WooCommerce
  • BigCommerce
  • Magento
  • Amazon India
  • Flipkart
  • Snapdeal
  • Alibaba
  • eBay
  • Jabong
  • Quikr
  • Myntra
  • Homeshop18
  • Pepperfry





मुझे उम्मीद है की आपको मेरा Article E-Commerce Kya Hai ? अच्छा लगा होगा आपको मेरे इस Article से बहुत सारी जानकारी मिली होगी और E-Commerce  का Concept भी Clear हो गया होगा तो अगर आपको मेरा यह Article अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों में शेयर करें और अगर आपको ई-कॉमर्स से Related कोई भी Question हो तो हमें Comment करके जरूर बताये.

For Blogging E-Book and

Digital Marketing Service  

WhatsApp 9958676204

Be the first to comment on "ई-कॉमर्स क्या है – What is E-commerce in Hindi?"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*