GUI Kya Hota Hai? | Graphical User Interface Kya Hai

GUI Kya Hota ;Graphical user interface Kya Hai In Hindi: what is gui ;gui ka full form in english ;gui क्या है in hindi ;ग्राफिकल यूजर इंटरफेस की परिभाषा ;ग्राफिकल यूजर इंटरफेस का आविष्कार किसने किया ;cui क्या है ;graphical user interface examples ;ऑपरेटिंग सिस्टम ग्राफिकल यूजर इंटरफेस के उदाहरण

Graphical user interface Kya Hai : Hello दोस्तों स्वागत है आपका technicalbandu.com के इस नए पोस्ट मैं जिसमें आप जानेंगे की Graphical user interface Kya Hai और यह कैसे काम करता है इस पोस्ट को पढ़कर आपको कही और जाने की जरूरत नही है क्योंकि आज मैं आपको Graphical user interface Kya Hai In Hindi से Related सब Points Clear करूंगा.उसके लिए बस आपको इस पोस्ट को Last तक पढना है | GUI Kya Hai

हेलो दोस्तों, आज के समय में अगर देखा जाय तो लगभग सभी लोग Computer से किसी न किसी प्रकार से जुड़े है या फिर use करे रहे है पर क्या आप जानते है की आखिर Computer को इस्तमाल करना इतना आसान कैसे हो पाया तो यह कहना गलत नहीं होगा की इसमें Computer में GUI ने एक क्रांतिकारी बदलाब किया है।सोचिए अगर Computer को use करने के लिए Codding की या machine language आवश्यक होता तो फिर computer हर किसी को चला पाना संभव नहीं था क्योकि ये codding या programming language हर कोई इतनी जल्दी नहीं सीख पाता इसी के लिए ही GUI यानी ग्राफिकल यूजर इंटरफेस को develop किया गया जिससे यूजर को ग्राफ़िक्स के माध्यम से computer को use करना बड़ा ही आसान बना दिया है। GUI Kya Hota Hai?

ग्राफिकल यूजर इंटरफेस की परिभाषा (Definition of gui in hindi)

परिभाषा – ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस (जीयूआई) एक तरह का यूजर इंटरफ़ेस है जो की उपयोगकर्ता को कम्प्युटर उपकरणों की मदद से विज्वल इंडिकेटर और ग्राफिकल आइकॉन को दिखने का काम करता है।

बड़े बड़े ऑपरेटिंग सिस्टम जैसे की विंडोज, मैक, आयोस आदि सभी में ग्राफिकल इंटरफ़ेस होता है, जिसमे की आप किसी भी आइकॉन पर क्लिक करके उस एप या जो भी चीज़ है उसे चला सकते हैं। शुरुआत में जीयूआई को माऊस और कीबोर्ड की मदद से चलाया जाता था पर आजकल यह काफी मोबाइल उपकरणों में चलते हैं जैसे की स्मार्टफोन, टैब्लेट आदि।

  • इन उपकरणो में काफी तरह की तकनीकी को एक साथ लगाया जाता है जिससे की यह सही से काम कर सकें।
  • कमांड लाइन ऑपरेटिंग सिस्टम और सीयूआई के जैसे यह कठिन नहीं होते यह जीयूआई याद करने में थोड़े आसान होते हैं।
  • जीयूआई में न तो किसी तरह का कोड लिख कर कमांड देने की जरूरत होती है ना ही किसी प्रोग्राममिंग भाषा को याद रखना होता है।
  • जीयूआई को बनाने वाला कोई एक नहीं था इसके पीछे काफी तकनीकी विशेषज्ञों के नाम जुड़े हुए हैं। जीयूआई हर साल काफी बेहतर होता जा रहा है।

Digital Marketing क्या है? Digital Marketing के फायदे और नुकसान

BCA क्या है? कैसे और कब करें?

GUI क्या हैं ?

Computer पर किसी भी कार्य को करने के लिए उपलब्ध चित्रमय माध्यम को “graphical user interface” कहते है। इसमें प्रयोगकर्ता अपने Computer या मोबाइल पर उपलब्ध विभिन्न input device जैसे माउस, कीबोर्ड, टच स्क्रीन इत्यादि के माध्यम से Computer पर उपलब्ध संकेतों पर कार्यवाही करता है। इसे हिंदी में “चित्रितोप योजक सम्पर्क साधन” भी कहा जाता है। Computer के अलावा हम अन्य कई प्रकार के Electronic instruments को इसी प्रकार के GUI माध्यम से उपयोग करते है,जैसे MP3 प्लेयर, मोबाइल फ़ोन, माइक्रोवेव ओवन इत्यादि।
GUI का मतलब है Graphical user interface”, यह एक ऐसे interface को संदर्भित करता है, जो ग्राफिक तत्वों के माध्यम से कंप्यूटर और टैबलेट जैसे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के साथ बातचीत करने की अनुमति देता है। यह टेक्स्ट-आधारित आदेशों के विपरीत, जानकारी प्रदर्शित करने के लिए आइकन, मेनू और अन्य ग्राफ़िकल अभ्यावेदन का उपयोग करता है।ग्राफिक तत्व उपयोगकर्ताओं को कंप्यूटर पर कमांड देने और माउस या अन्य इनपुट डिवाइस का उपयोग करके फ़ंक्शन का चयन करने में सक्षम बनाते हैं।

GUI के तहत चलने वाले प्रोग्रामों में ग्राफिक तत्वों का एक विशिष्ट सेट होता है, ताकि एक Specific interface सीखने के बाद एक उपयोगकर्ता इन प्रोग्रामों का उपयोग बिना किसी विशेष कमांड को सीखे कर सके। जेरोक्स 8010 सूचना प्रणाली पहला जीयूआई-केंद्रित कंप्यूटर ऑपरेटिंग मॉडल था। यह एलन के, डगलस एंगेलबर्ट और उनके सहयोगियों द्वारा ज़ेरॉक्स PARC में विकसित किया गया था।अगर हम बात करे वर्ष 2014 के अनुसार, तो सबसे लोकप्रिय GUI Microsoft Windows और Mac OS X हैं। और अगर हम मोबाइल उपकरणों के बारे में बात करते हैं, तो Apple के IOS और Google के Android interface का व्यापक रूप से उपयोग किए गए GUI हैं। ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (GUI) एक ऐसा इंटरफेस है जिसके माध्यम से Users इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों जैसे कंप्यूटर, हाथ से पकड़े गए उपकरणों और अन्य उपकरणों के साथ बातचीत करता है।यह इंटरफ़ेस पाठ-आधारित इंटरफेस के विपरीत, जहां डेटा और कमांड पाठ में हैं, जानकारी और संबंधित Users नियंत्रण प्रदर्शित करने के लिए आइकन, मेनू और अन्य दृश्य संकेतक (ग्राफिक्स) अभ्यावेदन का उपयोग करता है।

GUI अभ्यावेदन एक माउस, ट्रैकबॉल, स्टाइलस या एक टच स्क्रीन पर उंगली जैसे एक संकेत डिवाइस द्वारा हेरफेर किया जाता है।
GUI की आवश्यकता स्पष्ट हो गई क्योंकि पहला मानव / कंप्यूटर पाठ इंटरफ़ेस कुंजीपटल पाठ निर्माण के माध्यम से था जिसे प्रांप्ट कहा जाता है।
कमांड कंप्यूटर पर प्रतिक्रियाएं शुरू करने के लिए डॉस प्रॉम्प्ट पर एक कीबोर्ड पर टाइप किए गए थे। इन आदेशों के उपयोग और सटीक वर्तनी की आवश्यकता ने एक बोझिल और अक्षम इंटरफ़ेस बनाया।अगर हम बात करे इसके निर्माण कि तो वर्ष 1970 के दशक के उत्तरार्ध में, ज़ेरॉक्स पालो ऑल्टो अनुसंधान प्रयोगशाला ने GUIs का निर्माण किया, जो अब विंडोज, मैक ओएस और कई सॉफ्टवेयर अनुप्रयोगों में आम हैं।
विशेष रूप से डिज़ाइन किए गए और लेबल किए गए चित्रों, चित्रों, आकृतियों और रंग संयोजनों का उपयोग करके, वस्तुओं को कंप्यूटर स्क्रीन पर चित्रित किया गया था। जो या तो ऑपरेशन के समान दिखते थे या Users द्वारा सहज रूप से पहचाने जाते थे। आज, प्रत्येक OS का अपना GUI है। सॉफ़्टवेयर एप्लिकेशन इनका उपयोग करते हैं और अपने स्वयं के अतिरिक्त GUI जोड़ते हैं।

GUI कैसे काम करता है? How Does GUI work?

दोस्तों GUI कैसे काम करता है इसे समझने के लिए हम ऐसे समझ सकते है जब GUI में कोई भी command जैसे की किसी फाइल्स को delete, Open या फिर file को move करने करने के लिए हम अपने सिस्टम पर window, icon और menu का उपयोग करते है न की किसी code का।

इस तरह से हम कह सकते है कि कंप्यूटर के साथ में interact करने लिए navigate करने के लिए mouse का use करते है और कई सारे shortcuts key के लिए keyboard का use करते है और भी आसान शब्दों में कहे तो यदि हमें कोई भी GUI ऑपरेटिंग सिस्टम पर कोई programs को खोलना है तो  इसके लिए बस अपने mouse के pointer को program के icon पर dual-click करे और वह program open हो जायगा जबकि यदि आप कोई GUI operating system का use नहीं करते है तो इसके लिए codding का जरुरत होती है।और देखा जाय तो GUI उपयोगकर्ता की भाषा अनुवाद करने का काम करता है क्योकि मशीन केवल मशीनी भाषा को ही समझती है और GUI ही यह काम करता है। GUI Kya Hota Hai?

Click Here  : Buy Best Web Hosting 

History of gui in hindi

पहला ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस 1981 में बनाया गया था जो की ज़िरॉक्स पार्स के एलन केय, डगलस एंगेल्बर्ट ने और वैज्ञानिकों की मदद से इसको बनाया था। उन्होने इस बात को ध्यान में रखकर इसे बनाया था की अगर हम ऑपरेटिंग सिस्टम की कोई ग्राफिकल रीप्रेसेंटेशन बनाएँगे तो यह लोगो को उपयोग करने में और भी आसान होगी।पहला जो उपयोग किया गया था जीयूआई का वह 1983 में एपल के लिसा कम्प्युटर में किया गया था। इससे पहले के कम्प्युटर एमएस डीओएस और लिनक्स यूआई में कमांड लाइन का इस्तेमाल करते थे क्यूंकी इनका इस्तेमाल लोगों के खुद से ज्यादा बिज़नेस में होता था।एपल मैक इनतोष में जीयूआई का इस्तेमाल किया गया। इसके बाद इस उत्पाद को बाज़ार में आने के एक साल बाद ही यह काफी लोकप्रिय उत्पाद माना जाने लगा और काफी लोग इसका इस्तेमाल करने लगे।

माइक्रोसॉफ़्ट ने भी फिर जीयूआई का अपने विंडोज में इस्तेमाल किया जिससे की वह बेहतर तरीके से काम कर सके। GUI Kya Hota Hai?

What are examples of GUI operating system in hindi

  • माइक्रोसॉफ़्ट विंडोज़ – Windows 7, 10 आदि
  • Apple सिस्टम 7 और macOS
  • Chrome ओएस
  • Android OS
  • GUI इंटरफ़ेस का उपयोग करने वाला Linux वेरिएंट – Ubuntu

ग्राफिकल यूजर इंटरफेस GUI के फायदे –

  • ग्राफिकल यूजर इंटरफेस पर यूजर बिना कमांड जाने भी आसानी से कार्य कर सकता है यूजर को कंप्यूटर को ऑपरेट करने के लिए किसी भी तरह के कमांड को याद करने और चलाने की आवश्यकता नहीं होती है।
  • जीयूआई में मेन्यू खोलना, फाइलों को इधर-उधर करना और किसी भी प्रोग्राम को इंटरनेट की सहायता से चलाना आसान होता है।
  • जीआईयू में जिस भी आइकॉन से कुछ जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आइकॉन में क्लिक करते ही जीआईयू हमें उससे संबंधित जानकारियों को तुरंत प्रदर्शित कर देता है।

ग्राफिकल यूजर इंटरफेस GUI के नुकसान 

  • ग्राफिकल यूजर इंटरफेस बहुत सारी प्रोसेसिंग पावर का उपयोग करती है ताकि टेक्स्ट पर निर्भर करने वाला यूआई हम इस्तेमाल कर सकें जिसकी वजह से कंप्यूटर की प्रोसेसिंग प्रभावित होती है।

उपयोगकर्ता GUI के साथ कैसे इंटरैक्ट करता है?[How does the user interact with the GUI? in Hindi]

एक पॉइंटिंग डिवाइस, जैसे कि माउस का उपयोग GUI के लगभग सभी पहलुओं के साथ communicate करने के लिए किया जाता है। अधिक आधुनिक (और मोबाइल) उपकरण भी टच स्क्रीन का उपयोग करते हैं। कीबोर्ड का उपयोग करके जीयूआई नेविगेट करना भी संभव है।

मुझे आशा है की आप लोगो को समझ आ गया होगा की GUI Kya Hota Hai? | Graphical User Interface Kya Hai , दोस्तों अगर आपको मेरा ये Article अच्छा लगा हो तो Share जरूर करे | 

Thanks for reading

For Blogging E-Book and

Digital Marketing Service  

WhatsApp 9958676204

Be the first to comment on "GUI Kya Hota Hai? | Graphical User Interface Kya Hai"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*