NFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai

what are nfts;buy nft;nft crypto art;how to buy nft tokens;nft marketplace;एनएफटी;कैसे एक nft बनाने के लिए;बिटकॉइन इतिहास;Nft क्या है;NFT marketplace;कैसे एक NFT बनाने के लिए;NFTically;NFT art;NFT crypto;NFT meaning;NFT coin price

Hello दोस्तों स्वागत है आपका technicalbandu.com के इस नए पोस्ट मैं जिसमें आप जानेंगे की NFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai और NFT कैसे काम करता हैं? हम इस आर्टिकल में NFT के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे इसलिय इस आर्टिकल को शुरू से लेकर आखिरी तक पढ़े ताकि जब कभी भी कोई NFT की चर्चा करें तो आप भी उनसे NFT के बारे में बातें कर सके.

इन दिनो NFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai पर ज़ोर शोर से चर्चा हो रही है। बहोत से लोग इसमे इंटरेस्ट ले रहे है और ले भी क्यूँ न जब Twitter के पूर्व CEO Jack Dorsey ने अपने पहले Tweet का एनएफ़टी टोकन बनाकर उसको $2.9 million dollars में बेंच दिया।इसके बाद तो जैसे एनएफ़टी टोकन्स की होड़ लग गयी कई सारे लोग अपनी क्रीएटिविटि दिखा कर अलग अलग चीजों के एनएफ़टी टोकन बनाकर लाखो करोड़ो रूपये कमा रहे है।



जैसे ही Jack Dorsey ने अपना पहला Tweet का NFT Token 2.9 मिलीयन डॉलर में बेंचा उसके बाद ही लोगो ने गूगल पर अलग अलग तरह से सर्च करने लगे जैसे कि – nft kya hai, nft kya hai hindi me, nft kya hoti hai, nft kya hota hai,NFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai ,nft ka matlab kya hai, nft ka full form kya hai । आज हम इस आर्टिकल में इसी बारे में बात करेंगे कि NFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai और nft kaise kaam karta hai । तो चलिये ज्यादा समय न लगते हुये बात करते है कि आखिर ये NFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai और लोग इससे कैसे पैसे कमा रहे है।

NFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai ?

NFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai (Non-Fungible Tokens) एक तरह का डिजिटल एसेट या डेटा होता है, और इसे ब्लॉकचेन पर रिकॉर्ड किया जाता है. NFT एक तरह का डिजिटल टोकन होता है. इसमें आप इमेज, गेम, वीडियो, ट्वीट किसी को भी NFT में बदलकर मॉनेटाइज कर सकते हैं. इसमें खास यह है कि, इन डिजिटल एसेट को क्रिप्टोकरेंसी के जरिए ही खरीदा और बेचा जाता है. नॉन फंजिबल टोकन काफी यूनिक है, क्योंकि इसका एक यूनिक आईडी कोड होता है इसलिए दो NFT कभी भी आपस में मैच नहीं कर सकते हैं. इसके साथ ही उनको डुप्लीकेट भी नहीं बनाया जा सकता है.

बता दें, ज्यादातर NFT Ethereums पर क्रिएट किए गए हैं, और इन्हें भी किसी दूसरे एसेट की तरह ही बेचा और खरीदा जा सकता है. आप भी चाहे तो NFT को खुद बनाकर और खुद ही बेच सकते हैं. इसके साथ ही आप इसकी रॉयल्टी कमा सकते हैं. इसमें किसी बिचौलियों की जरूरत नहीं है.

Share Market क्या है ? Share Market मे पैसे कैसे लगाए

Bitcoin Kya Hai ? BITCOIN EXPLAINED IN SIMPLE HINDI)

NFT का फुल फॉर्म  Kya Hai 

NFT का फुल फॉर्म नॉन-फंजिबल टोकन है और हिंदी में इसका फुल फॉर्म अपूरणीय टोकन है। इंग्लिश मे इसका फूल फॉर्म “Non-fungible token” होता है।

NFT कैसे काम करता हैं?

फिरहाल NFT एक ही ब्लॉकचेन पर मौजूद हैं जोकी एथेरियम ब्लॉकचैन है। एथेरियम एक क्रिप्टोकरेंसी प्लेटफॉर्म है जो स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट्स का उपयोग करता है और इस प्रकार, प्रत्येक NFT अविनाशी है और इसे दोहराया नहीं जा सकता है।

  • NFT भी ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी से बना है। यह एक सार्वजनिक बही खाता है जो लेनदेन का रिकॉर्ड रखता है। ब्लॉकचेन डिजिटल जानकारी को रिकॉर्ड और डिस्ट्रीब्यूट करने की अनुमति देता है।
  • ब्लॉकचेन लेनदेन का एक ऐसा रिकॉर्ड है जिसे बदला, हटाया या नष्ट नहीं किया जा सकता है। ब्लॉकचेन को डिस्ट्रिब्यूटेड लेजर टेक्नोलॉजी, यानी DLT के रूप में भी जाना जाता है।
  • ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का क्रिप्टोकरेंसी के साथ दूसरे कामों में भी इस्तेमाल किया जा रहा है। विशेष रूप से NFT जैसे डिजिटल एसेट की खरीद और बिक्री में एथरियम ब्लॉकचेन पर होती हैं।
  • NFT डिजिटल वर्ल्ड में मूर्त और अमूर्त, दोनों वस्तुओं का रिप्रजेंट करती है। इनमें आर्ट, GIF, वीडियो, म्यूजिक, मैसेज और ट्वीट जैसी चीजें शामिल होती हैं।
  • इसे एक उदाहरण से समझ सकते हैं- पिछले साल ट्विटर के पूर्व CEO जैक डोर्सी ने अपना पहला ट्वीट ‘just setting up my twttr’ को NFT के रूप में बेचा।
  • मार्च 2006 में पोस्ट किया गया यह ट्वीट डिजिटल इतिहास का एक अहम हिस्सा होने की वजह से 38 लाख डॉलर, यानी करीब 17 करोड़ रुपए में बिका।

Click Here  : Buy Best Web Hosting 




खुद का Nft Token कैसे बनाएं – खुद का NFT Token बनाने का तरीका

  1. खुद का Token बनाने के लिए आपको सर्वप्रथम एक wallet की आवश्यकता होगी ERC – 721 को सपोर्ट करता हो
  2. यह wallet आपका ट्रस्ट wallet या Meta मास्क wallet हो सकता है यह wallet Ethereum के Blockchain  technology पर आधारित होता है
  3. आपके Ethereum के इस wallet में $50 या $100 के ETH आपके पास होने चाहिए
  4. आप अब Ethereum ब्लाकचैन के प्लेटफार्म पर रजिस्टर करें
  5. अब आपको क्रिएट के ऑप्शन पर क्लिक करना है और अपने इस wallet को उससे थेरियम के Blockchain  प्लेटफार्म से जोड़ना है आपको अपना wallet Ethereum प्लेटफार्म से जोड़ने के लिए डिजिटल साइन करके मालिकाना हक पुष्टि करनी होती है
  6. अब आपके सामने एक विंडो ओपन होगी जिसमें आप अपने एक कलाकृति को अपलोड करने के लिए जोड़ सकते हो
  7. इस विंडो में जाने के बाद आप अपने नवनिर्मित NFT के लिए एक न्यू फोल्डर का निर्माण करें
  8. अब इसमें कोई आप अपना छपिया प्रतीक जिसका आप NFT बनाना चाहते हैं उसको डालें या इस में सेव करें
  9. अब नए आइटम जोड़ने के ऑप्शन पर क्लिक करें और अपना छवि या प्रतीक का सिलेक्शन करें जिसे आप NFT में बनाना चाहते हैं
  10. अब उसे 2D 3D या अन्य मॉडलों में अपलोड कर दें
  11. अब आप अपने NFT निर्माण की पुष्टि करें

NFT कैसे खरीदें?

यदि आपको खुद का NFT कलेक्शन बनाना है तो आपके पास सबसे पहले एक डिजिटल वॉलेट होना चाहिए। इसी वॉलेट के जरिए आपको NFT और क्रिप्टोकरेंसी को स्टोर करने की अनुमति मिलेगी।

वॉलेट में ईथर जैसी कोई क्रिप्टोकरेंसी होनी चाहिए, जिनके जरिए NFT को खरीदा जा सकता है।

आप अब Coinbase, Kraken, eToro, PayPal और Robinhood now जैसे प्लेटफॉर्म पर क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके ईथर जैसी क्रिप्टो करेंसी खरीद सकते हैं।

ये प्लेटफॉर्म हर लेन-देन पर कुछ परसेंट चार्ज लेते हैं। लेन-देन करते हुए इसका ध्यान जरूर रखें।

दोस्तों हमें आशा है कि NFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आया होगा। इस पोस्ट में हमने आपकोNFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai से जुड़ी सभी जानकारियां दे दी है। तो दोस्तों इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें। इस पोस्ट में अगर हमसे कोई गलती हो गई हो तो हमें क्षमा करें और कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।




आपको यह content helpful लगा हो तो प्लीज इसे अपने सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें

Thanks for reading

Be the first to comment on "NFT (Non-Fungible Tokens) Kya Hai"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*